हरे धनिया वाले दम आलू / Dum Aloo Recipe

हरे धनिया वाले दम आलू
  • Prep Time
    20
  • Cook Time
    15
  • Serving
    4
  • View
    297

आलू सब्जियों का राजा है, एक ऐसी सब्जी है जो सबको पसंद आती है। ज्यादातर सब्जियो के साथ में आलू का प्रयोग किया जाता है। आप आलू को उबाल कर या भून कर खाइये बहुत ही टेस्टी लगते है। आलू का पराठा ,आलू मटर ,आलू गोभी ,आलू की भुजिया ,आलू के चिप्स ,आलू के पापड़ और आलू के बगैर समोसा की तो कल्पना भी नहीं की जा सकती है।  चूल्हे पर भुनी हुए आलू का भरता या बैगन का भरता का स्वाद याद आते ही मुँह में पानी आ जाता है

आलू सिर्फ एक सब्जी ही नहीं है इसके के  कुछ औषधीय  गुड़ भी होते है आइये आलू के फायदे और नुकसान के बारे में जानते है।

  • आलू में सोडा, पोटेशियम, विटामिन A, D होने के साथ-साथ इसमें फॉस्फोरस, आयरन, ज़िंक, मैग्नेशियम प्रयाप्त मात्रा में होता है। यह न सिर्फ हमारे सेहत को फायदे देता है बल्कि यह हमारी त्वचा की खूबसूरती के लिए बहुत लाभकारी होता है।
  • आलू में कैलशियम, लोहा, विटामिन बी तथा फासफोरस बहुत होता है आलू खाते रहने से रक्त वाहिनियाँ बड़ी आयु तक लचकदार बनी रहती है यह रोटी से जल्दी पचता है यह सम्पूर्ण आहार है।विटामिन ‘सी’ आलू में बहुत होता है।
  • एक या दोनों गुर्दों में पथरी होने पर केवल आलू खाते रहने पर बहुत लाभ होता है। पथरी के रोगी को केवल आलू खिलाकर और बार-बार पानी पिलाते रहने मे गर्दे को पथरियाँ और रेत आसानी मे निकल जाती हैं l आलू में मैग्नीशियम पाया जाता है जो पथरी को निकालता है तथा बनने से रोकता है।
  • आलू में पोटेशियम की मात्रा बहुत पाई जाती है और सोडियम की मात्रा कम। पोटेशियम की अधिक मात्रा गुर्दो से अधिक नमक की मात्रा निकाल देती है, इससे गर्दे के रोगी को लाभ होता है।
  • आलू खाने से पेट भर जाता है और भूख में संतुष्टि अनुभव होती है। आलू में वसा (चर्बी) या चिकनाई नहीं पाई जाती है। यह शक्ति देने वाला है जल्दी पचता है। इसलिए इसे अनाज के स्थान पर खा सकते हैं।
  • आलू की प्रकृति क्षारीय है जो अम्लता को कम करती है। अम्लता के रोगी भोजन में नियमित आलू खाकर अम्लता को दूर कर सकते हैं।
  • आलू को उबाल कर या गर्म रेत था राख में भून कर खाना लाभदायक है।
  • उच्च रक्तचाप के रोगी भी आलू खायें तो रक्तचाप को सामान्य बनाने में लाभ करता है। आलू में मैग्नीशियम पाया जाता है जो उच्च रक्त-चाप को कम करता है।
  • आलू का ज्यादा सेवन गैस, गैस के दर्द और ब्लोटिंग की समस्या बढ़ा सकता है।
  • जो लोग मोटापे से ग्रसित हैं उन्हें आलू का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं को कच्चे आलू के सेवन से बचना चाहिए।
  • मधुमेह से ग्रस्त व्यक्तियों को आलू के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि इससे आपकी रक्त शर्करा में असंतुलन बढ़ सकता है।
  • लो ग्लाेइसेमिक इंडेक्सक वाले आहार के सेवन से ब्लड में ग्लूजकोज की मात्रा कंट्रोल में रहती है जिसके कारण मोटापा और डायबिटीज के होने का खतरा कम होता है।
  • वात विकार, अफारा और कब्ज की विकृति होने पर आलू का सेवन न करें।

आलू की तो बहुत सी रेसिपी बनाए जाती है, आज मैं आप सभी को Dum Aloo Recipe बनाना बताती हु। यह उत्तर प्रदेश के गांव में बनने वाली एक traditional recipe है। सर्दियों में जब नया आलू आ जाता है और हरा धनिया ,लहसुन की बहार रहती है तब इस रेसिपी को गांव में हर घर में बनाए जाती है।

इस रेसिपी को बनाने के लिए आलू उबाल लेते है। हरे धनिये,हरा लहसुन और हरा मिर्च को  साथ में पीस कर उबले आलू के साथ भून देते है, स्वादानुसार नमक डाल देते है बस तैयार है दम आलू। दम आलू को गरमा गर्म  ही खाने में अच्छा लगता है

अगर आपको ये रेसिपी पसंद आई हो तो इस रेसिपी को भी try कर सकते है –
जायकेदार आलू टमाटर की सब्जी

Dum Aloo Recipe  बनाने के लिए आवश्यक सामग्री इस प्रकार है :-

Ingredients

Nutrition

Boiled Potato Per Serving 100g

  • Daily Value*
  • Total Fat 2.24g
    3%
  • Saturated Fat 0.428g
    2%
  • Cholesterol 0mg
    0%
  • Sodium 237mg
    10%
  • Total Carbohydrate 19.52g
    7%
  • Dietary Fiber 1.7g
    6%
  • Sugars 0.84g
  • Protein 1.81g
  • Calcium 5mg
    0%
  • Iron 0.3mg2%
    2%
  • Potassium 367mg
    8%
  • Vitamin A 22mcg
    2%
  • Vitamin C 12.6mg
    14%

    Directions

    Step 1

     सबसे पहले आलू को अच्छी तरह से २-३ बार पानी से धो लीजिये। 

    Step 2

    इन धुले  हुए आलुओ को कुकर में डालिये और एक गिलास पानी डालकर कुकर बंद कर करके गैस पर रख दीजिये ।

    Step 3

    गैस की आंच तेज कर दीजिये , और एक सिटी बोलने के बाद  गैस की फ्लेम धीमी कर दीजिये । ५ मिनट तक धीमी आंच पर पकने के बाद गैस बंद कर दीजिये। 

    Step 4

    जब कुकर का प्रेशर निकल जाये तो कुकर का ढक्क्न खोलकर आलू  निकाल  लीजिये ।  आलू ठन्डे हो जाने के बाद छील लीजिये और छोटे टुकड़ो में काट लीजिये। 

    Step 5

    अब हरा मसाला तैयार कीजिये इसके लिए हरा धनिया ,हरा लहसुन ,हरी मिर्च ,अदरक को अच्छी तरह से धोकर जार में डालिये।  जार में थोड़ा सा पानी डालकर एक पेस्ट तैयार कर लीजिये ।

    Step 6

    अब एक कड़ाही लीजिये उसमे सरसो का तेल डालिये । तेल गरम हो जाने के बाद उसमे जीरा डाले।

    Step 7

    जब जीरा तड़क जाये उबले और कटे हुए आलू डालिये और मध्यम आंच पर आलुओ को ५ मिनट तक भूनिये। आलुओ के भून जाने के बाद पिसा हुआ हरा मसाला और साथ में नमक भी दाल दे ।

    Step 8

    मिक्स करे और धीमी आंच पर आलू और मसाले को ५-१० मिनट तक भूने  १० मिनट के बाद गैस बंद कर दे। तैयार है स्वादिस्ट आलू दम ,  इसे  आप रोटी के साथ पराठे के साथ ,या ऐसे ही खाइये।  सच मानिये बहुत ही टेस्टी लगता है तो आपके किचन में कब बन रहा है आलू दम। आप भी इस रेसिपी को जरूर बनाइये और अपने अनुभव मेरे साथ शेयर कीजिये ।

    Conclusion

    Tips:- आप चाहे तो बहुत छोटे साइज के आलू भी ले सकते है छोटे आलुओ को काटने की जरूरत नहीं होगी , आप इन्हे ऐसे ही छीलकर use कर सकते है । आलुओ को इतना ही उबालें की वो पक जाये लेकिन गल के न पकने पाए । आलुओ को तेल में थोड़ी देर के लिए भूनना जरूरी होता है । आप चाहे तो आलू दम को थोड़ा रसेदार भी बना सकती है इसके लिए थोड़ा सा पानी ड़ाल कर पकाइये । रसेदार आलू दम रोटी और पराठे के साथ खाने में अच्छा लगता है।  अगर आपके पास हरा लहसुन नहीं है तो आप लहसुन की कलिया भी ले सकते है ।

    You May Also Like

    Leave a Review

    Your email address will not be published.