लहसुनि पालक रेसिपी / Garlic Spinach Curry

लहसुनि पालक रेसिपी
  • Prep Time
    20 min
  • Cook Time
    30 mins
  • Serving
    4
  • View
    470

अच्छी सेहत के लिए हरी पत्तेदार सब्जिया बेहतर होती है जिसमे पालक मुख्य रूप से खाए जाने वाली हरी पत्तेदर सब्जी है पालक को इंग्लिश में स्पिनच कहते है और इसका बोटेनिकल नाम Spinacia oleracea है पालक एक ऐसी सब्जी है जो अपनी पौष्टिकता के कारण सुपरफूड मानी जाती है। शाकाहारी हो या मांसाहारी, सभी लोग इस सुपरफूड से कई तरह के पकवान बनाकर खाते हैं। पालक से सूप, दलिया, सब्जी, साग, सलाद, दाल, खिचड़ी जैसे बहुत तरह के व्यंजन बनाए जाते हैं

आइए जानते हैं सेहत के लिए पालक के फायदे। पालक में कई तरह के विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं, जो शरीर को पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व प्रदान करते हैं। इसमें कैलोरी बहुत कम मात्रा में पायी जाती है. जिससे वजन नहीं बढ़ता है। यह इम्यून सिस्टम को बढ़ाता है और ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित रखता है।
१. पालक में ल्यूटिन और जैक्सेंथिन सहित कई यौगिक मौजूद होते हैं, जो आंखों की सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।
२. इस सब्जी में एंटीऑक्सीडेंट भी पाया जाता है जो कैंसर के खतरे को कम करता है।
३. पालक में कम मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, लेकिन अधिक मात्रा में घुलनशील फाइबर पाया जाता है। यह सेहत के लिए कई मायनों में फायदेमंद है और वजन घटाने में भी काफी मदद करता है। साथ ही यह ब्लड शुगर को भी नियंत्रित रखता है।
४. पालक में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी, बीटा कैरोटिन और कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। यह इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करते हैं।
५. पालक में भरपूर मात्रा में नाइट्रेट पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मदद करती है। इससे हृदय रोगों का खतरा कम होता है।
७.पालक में कैल्शियम और विटामिन के पाए जाते हैं, इसलिए हड्डियों के लिए आप पालक को दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैं
८. आमतौर पर पालक को आयरन की कमी को पूरा करने के लिए उसे जाता है

पालक में पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं, लेकिन इसका सीमित मात्रा में ही सेवन करना चाहिए। अधिक मात्रा में पालक खाने से सेहत को नुकसान भी पहुंच सकता है। किडनी रोग के मरीजों को डॉक्टर की सलाह के बाद ही पालक का सेवन करना चाहिए।

पालक के इतने फायदों को जानने के बाद आज पालक की एक और नए रेसिपी लहसुनिया पालक आप के साथ शेयर करती हु. यह रेसिपी बहुत जल्दी बन जाती है और टेस्टी भी लाजवाब होता है तो चलिए बनाते है स्वादिस्ट और हेअल्थी रेसिपी लहसुनिया पालक .

अगर आपको ये रेसिपी पसंद आयी हो तो आप पालक की इन रेसिपीज को भी try कर सकते है :-
१. सगौड़ा (पालक कोफ्ता करी)
२. पालक पनीर रेसिपी
३.पालक सोयाबीन मसाला ग्रेवी

लहसुनिया पालक को बनाने के लिए जो इंग्रेडिएंट चाहिए वो इस प्रकार है :-

Ingredients

    Directions

    Step 1

    एक कटोरी सोयाबीन बड़ी को पानी में भिगा दीजिये. जब सोयाबीन बड़ी फूल जाये तो उसका पानी निचोड़कर निकाल दीजिये. एक कड़ाही में २-३ चम्मच तेल डालकर सोया बड़ी को भून लीजिये.

    Step 2

    पालक और सोया को अच्छी तरह से २-३ बार पानी से धो लीजिये. एक भगोने में एक गिलास पानी लीजिये और गरम कीजिये जब पानी गरम हो जाये तब धूलि हुई पालक डालकर उबाल लीजिये

    Step 3

    जब पालक उबाल जाये तो उसे गरम पानी से निकालकर तुरंत ठंडा पानी डालकर ठंडा कर लीजिये. (इस प्रकार ठंडा करने से पालक का पेस्ट एकदम ग्रीन होता है अन्यथा डार्क ग्रीन कलर का पेस्ट बन जाता है ). अब पालक को मिक्सी जार में डालकर एक फाइन पेस्ट बना लीजिये.

    Step 4

    एक कड़ाही लीजिये उसमे तेल डालकर दालचीनी, इलाइची, लौंग और तेलपत्ता डालकर बारीक कटा हुआ प्याज डाले और ब्राउन होने तक भूने.

    Step 5

    अदरक लहसुन का पेस्ट डाले और उसके रॉ स्मेल जाने तक भूने.

    Step 6

    सभी सूखे मसाले धनिया पाउडर,हल्दी पाउडर,लाल मिर्च पाउडर डाले और एक मिनट तक भूने .

    Step 7

    एक चम्मच बेसन को पानी में घोलकर कड़ाही में दाल दीजिये और एक उबाल आने दीजिये जिससे बेसन पक जाये.

    Step 8

    अब पिसा हुआ पालक डाले और ५ मिनट तक भूने.

    Step 9

    भुना हुआ सोयाबड़ी डाले और पालक के साथ मिक्स करे. साथ में गरम मसाला डाले.

    Step 10

    आवस्यकता के अनुसार पानी डाले ,नमक डाले और माध्यम आंच पर ५ मिनट तक और ५ मिनट तक धीमी आंच पर पकाकर गैस बंद कर दीजिये.

    Step 11

    १० - १२ लहसुन की कलिया छील कर बारीक टुकड़ो में काट लीजिये.

    Step 12

    अब लहसुन का तड़का लगाते है इसके लिए एक छोटी कड़ाही में तेल डालकर गर्म कीजिये ,लहसुन डालिये और भूनिये जब लहसुन ब्राउन कलर का हो जाये तो एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर डालकर गैस बंद कर दे .

    Step 13

    इस तड़के को ग्रेवी के ऊपर से डाल दीजिये लीजिये तैयार है लहसुनिया पालक . इसको रोटी ,नान रोटी ,चावल के साथ खा सकते है .

    Step 14

    लहसुनिया पालक बहुत ही टेस्टी और हेअल्थी होता है और लहसुन का तड़का इस ग्रेवी का टेस्ट और भी बढ़ा देता है आप भी बनाइये और अपना अनुभव कमेंट करके जरूर बताइये.

    Conclusion

    टिप्स एंड ट्रिक्स :- पालक के साथ मैंने सोया का भी यूज़ किया है , चाहे तो थोड़ा सा मेथी भी डाल सकते है और अगर मेथी और सोया नहीं पसंद है तो न डाले . लाल मिर्च पाउडर और हल्दी पाउडर काम ही डाले जिससे ग्रेवी का कलर ग्रीन रहेगा. इस ग्रेवी में टमाटर का यूज़ नहीं किया है .

    You May Also Like

    Leave a Review

    Your email address will not be published. Required fields are marked *