लसोड़े का अचार / Lasoda Achaar

लसोड़े का अचार
  • Prep Time
    3-4 hour
  • Cook Time
    15 mins
  • View
    642

लसोड़े का अचार स्वादिस्ट होने के साथ सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। आसानी से बनने वाला यह अचार राजस्थान के हर घर में बनने वाला एक लोकप्रिय अचार है। राजस्थान और उत्तर प्रदेश में यह अचार बनाया और बहुत पसंद किया जाता है। मारवाड़ी लोग इस अचार को बनाना और खाना बहुत पसंद करते है।
लसोड़े का अचार मसाले वाला और बिना मसाले का भी बनाया जाता है। बहुत से लोग लिसोड़ा और उससे होने वाले फायदों के बारे में नहीं जानते होंगे। आइये लिसोड़ा के बारे में थोड़ी से जानकारी ले ली जाये।

लसोड़ा नम और सूखे जंगलों में बढ़ता है। यह हिमाचल प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, राजस्थान आदि में होता है। जंगल के अलावा लोग अपने खेतों के किनारे पर भी इसे तैयार करते हैं। आपने अपने आस-पास या किसी गार्डन में लसोड़ा के पेड़ देखे होंगे लेकिन शायद आप इसकी खूबियों के बारे में नहीं जानते होंगे। इस पेड़ के फल, पत्ते, छाल और बीज हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है।


लसोड़ा पोषक तत्वों से समृद्ध होता है और कुछ लोग इसे गोंदी और निसोरा के नाम से भी जानते हैं। लसोड़ा में प्रोटीन, क्रूड फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, वसा, फाइबर, आयरन, फॉस्फोरस व कैल्शियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसके साथ ही लसोड़ा एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों से भी भरपूर है। आइये लिसोड़ा के फायदों के बारे में जान लेते है।
लसोड़ा लिवर के स्वस्थ्य को ठीक कर सकता है, हाई ब्लड प्रेशर के लिए फायदेमंद है, स्किन डिसऑर्डर को दूर करता है, गले की खराश मिटा देता है, बहुत से लोगों को कुछ चीजें खाने के बाद मसूड़ों में सूजन और दांत दर्द होने लगते हैं। ये समग्र ओरल हेल्थ में सहायक है।, लसोड़ा का नियमित सेवन गठिया से पीड़ित लोगों में जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने के लिए जाना जाता है। इसके फलों से निकले रस को बालों पर लगाने से सफेद की समस्या दूर हो जाती है।
लसोड़े के पेड़ की छाल को पानी में उबालकर छानकर पिलाने से खराब गला भी ठीक हो जाता था। इसके पेड़ की छाल का काढ़ा और कपूर का मिश्रण तैयार कर सूजन वाले हिस्सों में मालिश करने से आराम मिलता है।
इसके बीज को पीसकर दादखाज और खुजली वाले स्थान पर लगाने से आराम मिलता है।  गुजरात के आदिवासी लोग लसोड़ा के फलों को सुखाकर चूर्ण बनाते है और मैदा, बेसन और घी के साथ मिलाकर लड्डू बनाते हैं। इनका मानना है कि इस लड्डू के सेवन शरीर को ताकत और स्फूर्ति मिलती है। लसोड़ा की छाल का काढ़ा पीने से महिलाओं को माहवारी की समस्याओं में आराम मिलता है।

तो चलिए इतने फायदेमंद लिसोड़ा का आज मैं मसाले वाला अचार बनाने की आसान विधि बताने जा रही हु। लसोड़े का चटपटा टेस्टी अचार बनाने के लिए जो सामग्री चाहिए वो इस प्रकार है :-

Ingredients

    Directions

    Step 1

    सबसे पहले ताजे लसोड़े ले लीजिये। अब सभी लसोड़े को अच्छी तरह से धो लीजिये। लिसोड़े का कैप हटाना नहीं है और ऐसे लसोड़े लेने भी नहीं है जिनके ऊपर कैप न हो।

    Step 2

    एक भगोने में दो गिलास पानी ले लीजिये और गैस पर रखकर गर्म कीजिये।

    Step 3

    जब पानी उबलने लगे तो तब सभी धुले हुए लसोड़े को डाल दीजिये, प्लेट से ढक दीजिये और लसोड़े को तीन मिनट तक उबलने दीजिये। चेक कीजिये की लसोड़े सॉफ्ट हो जाये और दबाने पर हल्का सा दबने चाहिए।ओवर कुक मत कीजिये अन्यथा लसोड़े का पल्प बहार आ जायेगा।तीन मिनट तक उबलने के बाद गैस बंद कर दीजिये और भगोने को प्लेट से २-३ मिनट तक ऐसे ही ढके रहने दीजिये।

    Step 4

    ५ मिनट के बाद लसोड़े को छान कर उसका एक्स्ट्रा पानी निकाल दीजिये।अब इन लसोड़े को ठंडा होने दीजिये,जब लिसोड़े ठन्डे हो जाये तो इनके कैप हटा दीजिये।

    Step 5

    लसोड़े को आधा काट कर इनके बीज निकाल ले। अगर आप इन बीज को नहीं निकाल पा रहे है या आपको ये काम मुश्किल लग रहा है तो आप बीज के साथ भी अचार को बना सकते है।बीज निकालने के बाद एक साफ कपडे पर लसोड़े को फैला कर २-३ घंटे की घूप लगा दीजिये। कच्चे आम को छीलकर कद्दूकस कर लीजिये या आप चाहे तो छोटे छोटे टुकड़ो में काट भी सकते है।

    Step 6

    अब मसाला बना लेते है, इसके लिए सभी मसालों को एक पैन में भून लेते है मसालों को ठंडा करके मिक्सी जार में डालकर एक दरदरा पाउडर बना लीजिये।

    Step 7

    एक कड़ाही में सरसो का तेल धुआँ उठने तक गरम कीजिये जब तेल हल्का सा ठंडा हो जाये तो उसमे हींग डाल दीजिये फिर इस तेल को ठंडा हो जाने के लिए रख दीजिये।

    Step 8

    तेल के ठंडा हो जाने के बाद उसमे दरदरा पिसा मसाला, लसोड़े, कटे हुए आम के टुकड़े, हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और नमक डालकर सभी सामग्री को मिक्स कीजिये। लीजिये तैयार है लसोड़े का चटपटा अचार। इस तरह से बना हुआ अचार आप साल भर तक रख कर प्रयोग में ला सकते है। आप भी एक बार इस अचार को बना कर देखिये आपको यह अचार बहुत पसंद आएगा।

    You May Also Like