भिंडी आलू की मसालेदार सूखी सब्जी / Bhindi Aloo Fry

भिंडी आलू की मसालेदार सूखी सब्जी
  • Prep Time
    10
  • Cook Time
    30
  • Serving
    4
  • View
    182

भिंडी को ओकरा भी कहा जाता है। इसका Scientific name Abelmoschus esculentus होता है। इसे English में ladyfinger कहते है। भारत में इसकी खेती गर्मी के मौसम में की जाती है।  इसका पौधा १ मीटर या उससे भी अधिक लम्बा हो सकता है जिसपर light yellow color के फूल खिलते है और यही फूल बाद में फल में बदल  जाते है।प्रमुख  भिंडी (ओकरा) उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, असम, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक हैं।

भिंडी को सब्जी के रूप में खाया जाता है लेकिन इसके बहुत से औषधीय गुण भी होते है। आइये इनके बारे में जानते है :-

  • भिंडी  विटामिन ,पोटेशियम, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और अनसैचुरेटेड फैटी एसिड से भरपूर होती  है साथ में पॉलीफेनोलिक यौगिक, कैरोटीन, फोलिक एसिड, थियामिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन, विटामिन-सी और अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं।
  • डायबिटीज के रोगियों के लिए भिंडी एक बढ़िया विकल्प है क्योंकि इसमें एक प्रकार की उच्च फाइबर सामग्री होती है जो पाचन की धीमी दर के कारण शुगर को धीरे-धीरे रक्त में छोड़ती है।
  • भिंडी में अपना कोई कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है और वास्तव में इसमें पेक्टिन नामक एक घटक होता है जो खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। खराब कोलेस्ट्रॉल दिल की बीमारियों का कारण बनता है और भिन्डी के सेवन से कोलेस्ट्रोल को ठीक या नियंत्रित किया जा सकता है।
  • भिंडी में अन्य सब्जियों की तुलना में अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। एंटीऑक्सिडेंट कोशिकाओं को ऑक्सीडेटिव क्षति को रोकते हैं और इसलिए यह कैंसर का खतरा कम करती हैं। उच्च फाइबर सामग्री एक स्वस्थ digestive system को बनाए रखती है और भिन्डी कोलन कैंसर को रोकती है।
  • भिंडी में विटामिन C अच्छी मात्रामें पाया जाता है  जो immunity को बढ़ावा देने और सामान्य संक्रमण को रोकने के लिए जानी जाती है।
  • भिंडी में उच्च मात्रा में विटामिन K, फोलेट और आयरन होते हैं, यह रक्त स्वास्थ्य को बढ़ावा देने और एनीमिया के उपचार और रोकथाम के लिए बहुत अच्छा है।
  • भिंडी में उच्च मात्रा में Insoluble  fiber होता है जो पूरे digestive system खासकर आंतों की पथरी को साफ करने में मदद करता है। यह बदले में आंत को स्वस्थ रखने और पेट के कैंसर को रोकने में एक अच्छी भूमिका निभाती है।
  • भिंडी मुंह या पेट के अल्सर से पीड़ित लोगों के लिए लाभदायक है। इसमें घाव को जल्द भरने वाले गुण होते हैं और यह आपके शरीर के जोड़ों को फिट आकार में रखने में मदद करती है। यह आपके आंत में अल्सर को बनने से रोकती है क्योंकि इसमें पेट में acidity को खत्म  करने के गुण होते हैं, इस प्रकार भिन्डी का सेवन आपकी आंतों को स्वस्थ रखने में मदद करती है।
  • कब्ज की समस्या एक ऐसी समस्या है, जिसमें मल त्यागने में कठिनाई होती है और इस के कारण पेट जुड़ी समस्याएं भी हो सकती हैं। भिंडी का सेवन कब्ज के लिए रामबाण का काम कर सकता है।
  • बढ़ता हुआ वजन कई बीमारियों का कारण बन सकता है, जिनमें मधुमेह और हृदय की समस्या प्रमुख है। भिंडी का उपयोग वजन को नियंत्रित करने के लिए किया जा सकता है। वैज्ञानिक शोध के अनुसार भिंडी में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा जैसे पोषक तत्व हाेते हैं, जो वजन को नियंत्रित करने में मददगार हो सकते हैं।

इतने सारे औषधीय गुंडों को जानने के बाद भिंडी को अपने डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। तो चलिए बनाते है आलू भिंडी की मसालेदार सूखी सब्जी। इस सब्जी को बनाना बहुत ही आसान है। सब्जी बनाने के लिए भिंडी को आधा इंच लम्बे टुकड़ो में काट लीजिये । आलू को भी पतले slices में काट लीजिये ।तेल डालकर फ्राई करके मसाले डालिये नमक डालिये और तैयार आलू भिंडी की मसालेदार भुजिया सब्जी , इस सब्जी को आप रोटी , पराठे के साथ खा सकते है।

भिंडी आलू की मसालेदार सूखी सब्जी बनाने के लिए जो सामग्री चाहिए वो इस प्रकार है :-

Ingredients

    Directions

    Step 1

    सबसे पहले भिंडी को धोकर उसका पानी किसी साफ सूखे कपडे से पोछ दीजिये।  अब भिंडी को आधा इंच के टुकड़ो में काट लीजिये और आलू को भी पतले slices में काटकर धो लीजिये ।

    Step 2

    लहसुन छील कर छोटे टुकड़ो में काट लीजिये।  एक कड़ाही लीजिये उसमे तेल डालकर गर्म कीजिये।  जब तेल गरम हो जाये तो कटे हुए लहसुन डालिये और हल्का ब्राउन होने तक भूनिये। 

    Step 3

    लहसुन जब हल्का ब्राउन हो जाये तब कटे हुए भिंडी और आलू डाल  दीजिये और तेज आंच पर लगातार चलाते हुए ५ मिनट तक भूनिये फिर मध्यम आंच पर तब तक भूनिये जब तक की भिंडी का  लिबलिबापन जब चला न जाये और भिंडी और आलू हल्का सा ब्राउन हो जाये , सब्जी को लगातार चलाते रहे ।

    Step 4

    जब सब्जी हल्का ब्राउन हो जाये तब सभी मसाले लाल मिर्च पाउडर,धनिया पाउडर,हल्दी पाउडर और नमक दाल दे सभी मसाले और नमक सब्जी में मिक्स करे ।

    Step 5

    एक प्लेट लेकर सब्जी को ढक दे और  धीमी आंच पर सब्जी को पकने दीजिये। बीच बीच में ढक्कन हटाकर सब्जी को कलछुल से चला दीजिये । जब आलू और भिंडी मसाले के साथ पक जाये तब सब्जी का ढक्कन हटाकर सब्जी को १-२ मिनट तक पकाये फिर गैस बंद कर दीजिये। 

    Step 6
    भिंडी आलू की मसालेदार सूखी सब्जी

    लीजिये तैयार है भिंडी आलू की मसालेदार सूखी सब्जी , इस सब्जी को  रोटी,पराठा ,या दाल चावल के साथ साइड डिश के रूप,में खा सकते है इस तरह से बनाये हुए crispy  आलू भिंडी की सब्जी सबको पसंद आती है आप भी एकबार बनाकर देखिये अगर पसंद आये तो अपना अनुभव मेरे साथ शेयर कीजिये और पसंद न आये तो आपके पास कोई सुझाव हो तो जरूर बताये ।

    Conclusion

    Tips and Tricks:- भिंडी हो हमेशा धोकर और उसका पानी पोछ कर ही काटना चहिये । भिंडी को आप अपने इच्छा अनुसार छोटे या बड़े  टुकड़ो में काट सकते है।  कटी हुए भिंडी और आलू साथ में डालकर भूनने चहिये । जब तक भिंडी का लिबलिबापन न चला जाये तब तक भुनना चहिये । भूनते समय तेज आंच पर लगातार चलाते हुए भूने अन्यथा भिंडी और आलू जल जायेंगे । इस सब्जी में तेल थोड़ा सा ज्यादा डाला जाता है तभी सब्जी  crispy बनती है । अगर आप को भिंडी के साथ आलू नहीं पसंद है तो आलू न डाले सिर्फ भिंडी ही डालकर सब्जी बनाये ।

    You May Also Like

    Leave a Review

    Your email address will not be published.