पैशन फ्रूट (कृष्णा फल) का जूस / Passion Fruit Juice

पैशन फ्रूट (कृष्णा फल) का जूस
  • Prep Time
    15 mins
  • Serving
    4
  • View
    533

पैशन फ्रूट का नाम आप पहली बार सुन रहे होंगे .भारत में इसे कृष्णा फल या कृष्ण कमल फल के नाम से भी जाना जाता है।स्वाद में खट्टा – मीठा होता है इस फल का वैज्ञानिक नाम passiflora edulis है मूल रूप से एक अमेरिकी फल है लेकिन  भारत में पैशन फ्रूट का उत्पादन सबसे ज्यादा नागालैंड ,मिजोरम , केरल ,कर्नाटक में होता है पैशन फ्रूट का जूस बहुत ही टेस्टी और हेअल्थी होता है

कृष्णा फल का फल एक बड़े साइज के नीबू की तरह होता है लेकिन जब यह फ्रूट कच्चा होता है तो हरे कलर का होता है लेकिन पकने के बाद इसका कलर पीला,काला या बैगनी कलर का हो जाता है पैशन फ्रूट का ऊपरी छिलका मोटा होता है फ्रूट अगर फ्रेश है तो आसानी से चाकू से भी नहीं कटता है इस छिलके के अंदर गूदेदार बीज होते है जो की छिलके के किनारो पर लगे होते है बीज काले रंग का होता है जिसके ऊपर नारंगी कलर का पल्प होता है बीज को दबाने से ऑरेंज कलर का जूस निकलता है जो की taste में खट्टा मीठा होता है.
पैशन फ्रूट में कई प्रकार के विटामिंस, डायटरी फाइबर और मिनरल्स होते हैं। पैशन फ्रूट में सोडियम ,पोटेशियम , कार्बोहाइड्रेट्स , डाएटरी फाइबर पाया जाता है इसके आलावा विटामिन C ,विटामिन A, विटामिन K, विटामिन D, विटामिन E , आयरन ,फॉस्फोरस ,एंटीऑक्सीडेंट ,फ्लैवोनॉइड ,कॉपर,राइबोफ्लेविन ,नियासिन ,ज़िंक और कैरोटीन प्रचुर मात्रा में पाए जाते है जो मनुष्य के सम्पूर्ण शरीर को लाभ पहुंचते है .

पैशन फ्रूट के फायदे (Health benefits of Passion Fruit)  :-
१. पैशन फ्रूट में डाइटरी फाइबर पाया जाता है जो की कोलेस्ट्रॉल और मोटापे को आसानी से कम करता है.
२. आँखों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन A , विटामिन E,  विटामिन C ,प्रोटीन और फ्लैवोनॉइड जैसे तत्वों की जरूरत होती है जो की पैशन फ्रूट में अच्छी मात्रा में होते है जो की आँखों को स्वस्थ बनाने में मदद करते है.
३. पैशन फ्रूट में पोटेशियम भरपूर मात्रा में होता है जो की ब्लड सर्कुलेशन को नियंत्रित करके ब्लड प्रेशर वाले मरीजों को लाभ पहुँचता है.
४. पैशन फ्रूट में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाता है.
५. कृष्णा फल में कैल्शियम ,प्रोटीन, विटामिन्स पाए जाते है जो की हड्डियों को मजबूत बनाते है.
६. कृष्णा फल इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग बनता है
७. पैशन फ्रूट तनाव को कम करता है.
८. इस फ्रूट में एंटीऑक्सीडेंट,फ्री रेडिकल्स , विटामिन, फ्लावनोईड,जैसे तत्व पाए जाते है जो कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकते है.

मै आशा करती हु की पैशन फ्रूट से सम्बंधित ये संछिप्त जानकारी आपको पसंद आयी होगी अगर आपको पैशन फ्रूट मिल जाये तो इस रेसिपी को जरूर try कीजिये और अपने अनुभव मेरे साथ शेयर कीजिये. अगर आपको ये रेसिपी पसंद आयी हो तो आप इन रेसिपीज़ को भी try कर सकते है
मैंगो मिल्क शेक
कोकोनट मिल्क शेक
ठंडा ठंडा बेल का शरबत

तो चलिए इतने फायदे वाले पैशन फ्रूट को जूस कैसे बनाते है बताते है पैशन फ्रूट को जूस बनाने के लिए जो सामग्री चाहिए वो इस प्रकार है :-

Ingredients

Nutrition

Amount Per 100 gm

  • Daily Value*
  • Calories 97
    -
  • Total Fat 0.7 g
    1%
  • Saturated fat 0.1 g
    0%
  • Cholesterol 0 mg
    0%
  • Sodium 28 mg
    1%
  • Potassium 348 mg
    9%
  • Total Carbohydrate 23 g
    7%
  • Dietary fiber 10 g
    40%
  • Sugar 11 g
    -
  • Protein 2.2 g
    4%
  • Vitamin C
    50%
  • Iron
    8%
  • Vitamin B-6
    5%
  • Magnesium
    7%
  • Calcium
    1%
  • Vitamin D
    0%
  • Cobalamin
    0%

    Directions

    Step 1

    सबसे पहले पैशन फ्रूट को धोकर ले लीजिये.

    Step 2

    अब चाकू से उसके २ टुकड़ो में काट लीजिये.

    Step 3

    चम्मच की सहायता से फ्रूट के अंदर को पल्प एक छन्नी में निकाल लीजिये.

    Step 4

    एक भगोना छन्नी के नीचे रख दीजिये अब इस पल्प को चम्मच से दबाते हुए जूस निकाल लीजिये.

    Step 5

    सारा जूस जब भगोने में इकट्ठा हो जाये तो ४ गिलास पानी .

    Step 6

    १०० ग्राम चीनी भगोने में डालिये.

    Step 7

    अब चीनी को कलछुल की सहायता से घोल लीजिये १० मिनट में जूस तैयार.

    Step 8

    जूस को सर्विंग गिलास में डालकर ice cubes डाल दीजिये और पैशन फ्रूट के खट्टे - मीठे जूस को आनंद लीजिये .

    Step 9

    शुगर पेशेंट के लिए पैशन फ्रूट को जूस बनाना हो तो पैशन फ्रूट के जूस में चीनी न डाले उसकी जगह पर काला नमक और जीरा पाउडर डाल कर जूस तैयार कीजिये इस तरीके से बनाया गया जूस भी सबको पसंद आएगा .

    You May Also Like

    Leave a Review

    Your email address will not be published.