लहसुन से होने वाले फायदे और नुकसान

भारतीय ब्यंजन दुनिया भर में मशहूर है। इसकी मुख्या वजह है उसमे पड़ने वाले मसाले ,प्याज ,लहसुन आदि जिसमे से लहसुन एक है।  किसी भी सब्जी में लास्ट में लहसुन का तड़का लगा दीजिये फिर देखिये सब्जी का स्वाद लाजवाब हो जाता है। लहसुन केवल स्वाद की वजह से ही हमारे भोजन में शामिल नहीं है।  लहसुन के बहुत से औषधीय गुण भी होते है चाहे आप लहसुन को पका कर खाये या भून कर या आप तड़के में डाले कैसे भी use करे हमारे लिए लहसुन लाभदायक ही होता  है   हमारे पूर्वज भी हजारो सालो से लहसुन का इस्तेमाल करते चले आ रहे है आज डॉक्टर भी हार्ट से जुड़ी समस्याएं होने पर लहसुन के सेवन की सलाह देते हैं। क्योंकि लहसुन खून को पतला बनाए रखने में मदद करता है। लहसुन के खाने से सर्दियों में शरीर को गर्म रखने में भी मदद मिलती है। यही कारण है कि, लहसुन की तेज गंध के कारण उसे पसंद न करने वाले भी ठण्ड का मौसम आते ही लहसुन खाना शुरू कर देते हैं।

प्याज और लहसुन एक ही फॅमिली से सदस्य माने जाते है। यह भारत समेत दुनिया से कई हिस्सों में उगाया जाता है। एक रिपोर्ट के अनुसार चीन में लहसुन की सबसे ज्यादा खेती होती है। South Africa  दुसरे और भारत तीसरे no. पर है ज़मीन के नीचे उगने वाली लहसुन आम तौर पर अक्तूबर-नबंवर के महीने में बोई जाती है, और अप्रैल के महीने में इसे उखाड़ते हैंऔर इसकी हर एक गांठ में १० – २० कलियाँ होती है ।   इसके पत्तो में भी लहसुन की महक और टेस्ट होता  है ऐसी वजह से लहसुन के हरे पत्तो को भी सब्जियों में प्रयोग में लाये जाते है ।

लहसुन खाने से होने वाले फायदे :- लहसुन में एंटी-बायोटिक, एंटी-वायरल, एंटी-फंगल, मैंगनीज, पोटेशियम, आयरन, कैल्शियम और विटामिन जैसे गुण पाए जाते हैं। लहसुन की एक गांठ में कैल्शियम, फॉस्फोरस, लौह तत्व, विटामिन सी का बड़ा भंडार मिलता है। साथ ही, कुछ मात्रा में विटामिन बी कॉम्पलेक्स भी इससे मिलता है। आज के शोधकर्ता भी इस बात से सहमत हैं कि लहसुन बड़े स्तर पर एक एंटीबायोटिक का काम करता है। तो आइये आज हम आपको लहसुन खाने से होने वाले फायदे के बारे में  बताएँगे।

  1. वजन कम करने के लिए:- आजकल बढ़ता हुआ वजन सबसे बड़ी समस्या है बदलती हुई जीवनशैली लोगो के वजन के बढ़ने का कारन है अगर आप भी इस समस्या से परेशान है तो सुबह खाली पेट लहसुन की कुछ कलियाँ खाने से वजन कम होता है।
  2. डायबिटीज के खतरे को करता है कम:- डायबिटीज के मरीज के लिए लहसुन फायदेमंद साबित होता है एक-दो हफ्ते तक लहसुन खाने से टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों का शुगर नियंत्रित हो सकता है।
  3. आंतों के लिए लहसुन :- लहसुन खाने से छोटी आंत का बचाव होता है इसका एंटीमाइक्रोबियल गुण आंतों के हानिकारक एंटरोबैक्टीरिया को बनने से रोक सकता है।
  4. ब्लड प्रेशर कम करने में :- अगर आप ब्लड प्रेशर के मरीज हैं तो लहसुन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है. लहसुन में बायोएक्टिव सल्फर योगिक, एस-एललिस्सीस्टीन मौजूद होता है, जो ब्लड प्रेशर के लेवल को कम करने में मदद कर सकते हैं. दरअसल, सल्फर की कमी से भी हाई ब्ल्ड प्रेशर की समस्या हो सकती है। ऐसे में शरीर को ऑर्गनोसल्फर यौगिकों वाला पूरक आहार जैसे लहसुन देने से ब्लड प्रेशर को स्थिर किया जा सकता है।
  5. कोलेस्ट्रॉल कम करने में :- लहसुन के सेवन से शरीर में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल जो खराब कोलेस्ट्रॉल है, के स्तर को कम करने में मदद मिल सकती है। लहसुन कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में मददगार हो सकता है.
  6. दांतों को रखता है मजबूत :- लहसुन में एंटी-बैक्टीरियल के गुण पाए जाते है जिस कारण यह दांतों में सड़न जैसी समस्या नहीं होने देता है. इस कारण आपके दांत मजबूत रहते है।.
  7. स्किन को रखता है स्वस्थ :- लहसुन स्किन के लिए भी बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसमें भारी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते है, जो स्किन में निखार लाने में मदद करता है। इसके साथ ही यह स्किन में नमी भी बनाए रखता है।
  8. सर्दी-जुकाम और बुखार के लिए :- एक स्टडी में पाया गया है की रोजाना लहसुन खाने वाले लोगो को सर्दी जुखाम बुखार कम होते है रिसर्च में पाया गया है कि लहसुन का एलिसिन यौगिक सर्दी जुकाम की समस्या का जोखिम कम कर सकता है। इस प्रकार रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में लहसुन आपके बेहद काम आ सकता है।
  9. कैंसर के लिए लहसुन :- लहसुन के गुण से कैंसर के जोखिम से बचा जा सकता है। एक रिसर्च बताती है कि लहसुन में एंटी-कैंसर गुण होता है। ऐसे में लहसुन को कैंसर से बचाव का तरीका माना जा सकता है।
  10. हड्डियों और गठिया के लिए लाभकारी :- लहसुन हड्डियों की समस्या में लाभकारी साबित हो सकता है। कच्चा लहसुन या लहसुन युक्त दवा के सेवन से शरीर को कैल्शियम अवशोषण में मदद मिलती है। इसके अलावा, लहसुन में मौजूद सल्फर यौगिक में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-अर्थराइटिक प्रभाव होते हैं। इनकी मदद से गठिया कम हो सकता है। इसलिए लहसुन को हड्डियों के लिए फायदेमंद कहा जा सकता है।
  11. लिवर के उपचार में सहायक :- लहसुन में मौजूद एस-एलील्मर कैप्टोसाइटिस्टीन यौगिक नॉन अल्कोहलिक फैटी लिवर के उपचार में सहायक हो सकता है। साथ ही इसे लिवर को किसी प्रकार की चोट से बचाने के लिए भी जाना जाता है । यही नहीं, लहसुन का तेल एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो लिवर की सूजन को कम कर सकता है।
  12. किडनी संक्रमण की रोकथाम :- लहसुन के गुण किडनी संक्रमण की रोकथाम में भी मदद कर सकते हैं। वैज्ञानिकों ने पाया , है कि गार्लिक पी. एरुजिनोसा (Pseudomonas Aeruginosa) बैक्टीरिया को बढ़ने से रोक सकता है। यह बैक्टीरिया यूटीआई और गुर्दे के संक्रमण के लिए जिम्मेदार होता है। इसके अलावा, लहसुन में मौजूद एलिसिन यौगिक किडनी रोग को कम करने में भी सहायक हो सकता है।
  13. यीस्ट इंफेक्शन से बचाव :- यीस्ट इंफेक्शन से बचाव में लहसुन मदद कर सकता है। लहसुन में एलिल सल्फाइड नामक यौगिक होता है, जो एंटीमाइक्रोबियल क्षमता दिखाता है। यह एंटीमाइक्रोबियल प्रभाव यीस्ट को नष्ट करके infection को कम कर सकता है।
  14. अल्जाइमर के लिए फायदेमंद :- जिसमें लोगों को भूलने की बीमारी हो जाती है। ऐसे में एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर लहसुन का सेवन करके संज्ञानात्मक गिरावट (Cognitive Decline) से बचाव किया जा सकता है। इसका सकारात्मक असर अल्जाइमर पर देखने को मिल सकता है।
  15. आयरन और जिंक के अवशोषण में मददगार :- आयरन और जिंक के अवशोषण में मददगार शरीर को स्वस्थ रखने के लिए कई प्रकार के पोषक तत्वों की आवस्यकता होती है । आयरन व जिंक उन्हीं में से एक है । रिसर्च बताती हैं ,कि लहसुन का सेवन करने से खाद्य पदार्थों में मौजूद आयरन और जिंक दोनों को शरीर आसानी से अवशोषित कर सकता है। इसलिए जिन लोगो को आयरन या जिंक की कमी है उन्हें  अपने आहार में लहसुन को शामिल करना चाहिए।

इतने फायदों बीच लहसुन खाने के के कुछ नुकसान भी है आइये उनके बारे में जानते है

लहसुन से होने वाले नुकसान :-

  • अगर एसिडिटी की समस्या से पेट दर्द, पेट फूलना और गैस बनने लगती है, तो ऐसे में लहसुन खाने से यह  समस्या  और बढ़ सकती है . एसिडिटी की समस्या में लहसुन खाना  नुकसानदायक हो सकता है..
  • अगर किसी को मुंह से बदबू आने की शिकायत है, तो उन्हें लहसुन नहीं खाना चाहिए. क्योंकि लहसुन खाने से मुंह की बदबू और बढ़ सकती है.
  • अगर आपको अक्सर सिरदर्द की समस्या रहती है, तो आप लहसुन को अधिक मात्रा में  ना खाये  . कच्चे लहसुन को ज्यादा खाने से  सिरदर्द और बढ़ सकता है
  • अगर आपको खून से जुड़ी बीमारियां हैं या फिर आप खून को पतला करने की दवाएं ले रहे हों, तो लहसुन का सेवन बढ़ाने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.