मोटापे के मुख्य कारण और निवारण

मोटापे के मुख्य कारण और निवारण

आज के दौर की सबसे बड़ी समस्या है मोटापा। मोटापे की वजह से बहुत से दिक्क्तों का सामना करना पड़ता है सीढिया चढ़ना ,दौड़ना चलना मुश्किल हो जाता है। थोड़ा काम करने पर बहुत जल्द कमजोरी लगने लगती है और साँस लेने में भी दिक्कत होती है। क्या कभी आपने सोचा है की मोटापा होता क्यों है आइये हम इस लेख के जरिये उन कारणो को जानते है जिनकी वजह से मोटापा बढ़ता है।

मोटापे के मुख्य कारण :-

१. टीवी देखते हुए खाना खाने की आदत से मोटापा बढ़ता है। टीवी देखते हुए हम कितना और क्या खा रहे है इस बात का ध्यान नहीं देते है और ज्यादा खाने की वजह से वजन बढ़ जाता है इसलिए हो सके तो टीवी या मोबाइल देखते हुए खाना न खाये।

२. कई बार ऐसा होता है हमें कही समय से पहुंचना है इस जल्दीबाजी में हम खाना नहीं खा पाते है और ज्यादा समय तक भूखे रहने से शरीर में पोषक तत्वों की कमी आ जाती है। भूखे रहने के बाद हम एक साथ अत्यधिक भोजन करते है जिससे अपच हो सकता है और बिना पचा हुआ भोजन फैट के रूप में जमा हो जाता है और मोटापे का कारण बनता है।

३. रात को खाना खाने के तुरंत बाद सो जाना भी मोटापे बढ़ने का एक कारण बनता है। खाना खाने के के बाद सो जाने से खाना अच्छे से पचता नहीं है और शरीर का फैट बढ़ता है साथ ही पेट में गैस बनने की समस्या हो जाती है। इस लिए कोशिश करे की रात को खाना जल्दी खाये और खाने के बाद तुरंत न सोये , कुछ देर टहले या अन्य काम कर ले। रात को खाना खाने के एक घंटे के बाद सोये।

४. कभी कभी हम खाना खाने में जल्दीबाजी करते है और बड़े बड़े बाईट लेकर खाने को जल्दी ख़तम करने की कोशिश करते है। इस तरह से हम खाने को अच्छी तरह से चबाते नहीं है बल्कि निगल जाते है और जरूरत से ज्यादा खा जाते है इसलिए खाना हमेशा अच्छी तरह से चबा कर खाये।

५. एल्कोहल मोटापे को बढ़ाता है क्योकि इसमें ज्यादा कैलोरीज़ होती है। ज्यादा कैलोरीज़ मतलब ज्यादा मोटापा . इसलिए हो सके तो अल्कोहल न ले या सिर्फ पार्टी आदि में ले वो भी नियंत्रित मात्रा में, अन्यथा अन्य बीमारी जैसे लिवर ,किडनी या हार्ट की बीमारियों का सामना करना पड़ेगा।

६. आज के समय में फ़ास्ट फ़ूड सबसे बड़ी वजह है। मोटाप बढ़ाने के लिए . फ़ास्ट फ़ूड बहुत ज्यादा तेल , घी से बनाये जाते है जो शरीर में फैट को बढ़ाते है। इसलिए फ़ास्ट फ़ूड कम खाये और हो सके घर का सादा खाना सलाद के साथ खाये। ज्यादा तेल वाले तले भुने खाने से बचे।

७. ऑफिस में या घर पर दिन भर बैठ कर काम करने से भी मोटापा बढ़ता है। इसलिए काम के बीच में ऑफिस में ही या घर पर चल फिर ले जिससे शरीर की कुछ इससरसीज़े होती रहे।

८. आज कल की मॉडर्न लाइफ ने हर कम को आसान बना दिया है। हर कम को करने के लिए मशीने आ गयी है लोग थोड़ी दूर जाने के लिए भी गाड़ी का प्रयोग करते है। चलना फिरना कम कर दिया है। बचे हुए हुए टाइम का उपयोग मोबाइल चलाने में या टीवी देखने में होता है। आज कल के बच्चे भी इंडोर गेम और मोबाइल गेम ज्यादा पसंद करते है यही वजह है की शरीर की एक्ससरसीसे न होने से मोटापा बढ़ता है।

९. हद से ज्यादा तनाव मोटापे बढ़ाने की एक मुख्या वजह है। तनाव में या तो हम ज्यादा खा लेते है स्ट्रेस को नियंत्रित करना बहुत ज़रूरी है।

१०. पर्याप्त नींद न लेना भी एक कारण है मोटापा मोटापा बढ़ाने का। नींद अच्छी न होने की वजह कोर्टिसोल और इन्सुलिन हार्मोन का उत्पादन बढ़ जाता है। हार्मोन्स का स्तर बढ़ने से भी मोटापा बढ़ता है।

११. थायराइड की समस्या भी मोटापे को बढ़ाने का कारण होता है। आजकल यह समस्या बहुत ज्यादा बढ़ गई है थायराइड हार्मोन्स या तो कम या ज्यादा बनने लगता है और शरीर में वासा एकत्रित होने लगता है और मोटापा बढ़ जाता है ।

१२. महिलाओ में पोलिसिस्ट ओवेरियन सिंड्रोम भी एक वजह होती है उनके मोटापे बढ़ाने का। इसकी वजह है मेल हार्मोन्स का स्तर बढ़ जाना। जिससे मोटापा बढ़ जाता है पोलिसिस्ट ओवेरियन सिंड्रोम है या नहीं यह केवल जाँच करानेके बाद ही पता चलता है ।

मोटापे का निवारण :-

मोटापा अपने आप में एक समस्या है इस समस्या से आसानी से निपटा जा सकता है। इससे निपटने के लिए ज्यादा कुछ नहीं बस थोड़ा सा अपना रहन सहन ,खाना और कुछ ब्यायाम करने चाहिए। आइये जानते है की आप अपना मोटापा कैसे कम कर सकते है ।

१. प्रतिदिन भोजन को खूब चबा चबाकर खाएं जिससे भोजन पचने योग्य बन जाता है और अच्छी तरह से चलाया हुआ भोजन लार में मिलकर पाचन को शुगम बना देता है।

२. जब भी पानी की प्यास लगे तो आप हमेशा अपने पास गुनगुना पानी रखें और इसे पीने के रूप में प्रयोग करें।
सुबह उठकर गुनगुने पानी में नींबू और शहद डालकर पिएं। ​गुनगुना पानी हमारी पाचन प्रक्रिया को एक्टिवेट कर देता है तथा पूरी बॉडी हाइड्रेट हो जाती है जिससे पेट की अतिरिक्त वसा घट जाती है। पानी हमेशा खाने से आधे घंटे पहले और आधे घंटे बाद में पिएं. बीच में जरूरत पड़ने पर घूंट भर पानी पी सकते हैं।

३.रात में भोजन करने के बाद कम से कम 20 से 30 मिनट और सुबह टहलना आवश्यक है। सुबह की ताजी हवा और धूप हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होती है। यह एक प्रकार का व्यायाम है जो शरीर की चर्बी को खत्म कर सकता है।

४. एक स्वस्थ शरीर के लिए हमेशा व्यक्ति को भोजन आवश्यकता से थोड़ा कम लेना चाहिए अगर आप नाश्ता और लंच को कम लेते हैं तो शाम का भोजन 7:00 से 8:00 के बीच अवश्य खा लेना चाहिए इससे पाचन शक्ति मजबूत है।

५. मिठाई पेय पदार्थ तथा अन्य तैलीय फास्ट फूड जंक फूड का सेवन बिल्कुल ना करें बल्कि उसके स्थान पर एक संतुलित और स्वस्थ भोजन लेना चाहिए।

६. व्यायाम एक ऐसा माध्यम है जिससे शरीर कई समस्याएं दूर हो सकती है। अक्सर लोग व्यायाम को नियमित नहीं करते हैं। यह कोई जादू नहीं है की एक दिन व्यायाम किया और आपका मोटापा कम हो गया आपको रोजाना व्यायाम करना चाहिए इसलिए अगर आप मोटापा कम करना चाहते हैं तो आपको प्रतिदिन कोई ना कोई व्यायाम जरूर करे।

७. शरीर में किसी भी प्रकार की समस्या व्यक्ति की जीवन शैली होती है यदि आपका खान-पान रहन-सहन उठना बैठना आदि अच्छे से नहीं है तो शरीर में समस्याएं ही समस्याएं हैं। इसलिए आपको अपनी जीवनशैली में बदलाव लाना होगा आप अपने भोजन को संतुलित करें सही समय पर सब कुछ करें तो आपके पेट की चर्बी और अन्य समस्याएं नहीं होंगी।

खाना खाने का समय निर्धारित करें. निर्धारित समय पर ही हल्का और सुपाच्य भोजन करें. हर समय कुछ न कुछ खाने की आदत न डाले। बहुत से लोगो की आदत होती है की थोड़ी सी भूख लगी तो कुछ खा लिया। इससे भूख खुल कर नहीं लगती है। खाने के बीच में कम से कम ३-४ घंटे का अंतर रखे। इससे पाचन क्रिया सही रहती है।

हाई फाइबर डाइट को खाने में शामिल करें। ये आपके पाचन तंत्र को दुरुस्त करती है, जिससे आपकी पाचन क्रिया बेहतर होती है और आपका खाया हुआ भोजन आसानी से पच जाता है। खाने में चपाती या चावल की बजाय सब्जियां ज्यादा खाएं। ये अनाज की तुलना में जल्दी पचती हैं। खाना खाते समय दो प्लेट ले। एक प्लेट में सलाद और दूसरी प्लेट में खाना ले। पहले सलाद खाये फिर खाना खाये। अगर आप इस तरीके को अपने दैनिक जीवन में शामिल कर लेंगे तो कभी भी मोटापे का शिकार नहीं होंगे।

नाश्ता स्किप न करें, साथ ही रात का भोजन 8 बजे तक हर हाल में करें। चाय या कॉफी पीने की आदत है तो वह भी दिन में एक या दो बार लेनी चहिये। दिन भर कॉफी या चाय पीने की आदत बंद कर दे। नॉर्मल चाय की जगह ग्रीन टी को पीने की आदत डालें।

आपका स्वस्थ्य आपके अपने हाथ में है अच्छा स्वस्थ्य आपका सबसे अच्छा साथी है जिससे अपनी जिंदगी को बेहतर ढंग से जी सकते है एक बार मोटापा कम हो जाने के बाद बैठ नहीं जाना है आपको निरंतर प्रयास करते रहना होगा अन्यथा मोटापे की चपेट में आने में देर नहीं लगेगी.

आशा करती हु की आपको ये लेख पसंद आया होगा . इस लेख को अपने फ्रेंड्स और फॅमिली के साथ शेयर कीजिये. ये केवल एक सामान्य जानकारी है अधिक जानकारी के लिए चिकित्सक से सलाह अवश्य ले .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *