जानिए अरहर की दाल (तुअर दाल) खाने से होने वाले फायदे और नुकसान / Pigeon Peas benefits and Side effect in Hindi

अरहर की दाल को तुअर दाल , रेडग्राम और Pigeon Peas भी कहा जाता है। अरहर की दाल रोजाना  प्रयोग होने वाली दालों में से एक है बहुत से घरो में तो रोज अरहर की दाल बनाई और खाई  जाती है। अब उसे बनाने का तरीका कैसा भी हो चाहे तड़का दाल हो  या सादा दाल या सब्जी के साथ मिला कर बनाया हुआ सांभर , सभी के साथ अरहर की दाल प्रयोग की जाती है। इस दाल का स्वाद भी पसंद किया जाता है, आसानी से पच जाती इसलिए बीमारी में भी यह दाल दी जाती है लेकिन  गैस, कब्ज एवं साँस के रोगियों को इसका सेवन कम करना चाहिए।

यह एक महत्वपूर्ण फसल है और प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत है। यह फसल ऊष्ण और उप ऊष्ण क्षेत्रों में उगाई जाती है। यह कम वर्षा वाले क्षेत्रों की एक महत्वपूर्ण दाल है और अकेली या अनाजों के साथ लगाई जा सकती है। यह नाइट्रोजन को बांध के रखती है। भारत में यह फसल आंध्र प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में उगाई जाती है।

अरहर के पौधे दो तरह के होते है एक हर साल होने वाले और दूसरा २-३ साल तक टिकने वाले . हर साल होने वाले पौधे दो से तीन साल तक होने वाले पौधों से छोटे होते है। अरहर भी दो तरह की होती है एक लाल  छोटे साइज की और सफ़ेद बड़े साइज की। इसके अतिरिक्त इसकी हरी फलियां सब्जी बनाने के लिये, खली चूरी पशुओं के लिए , हरी पत्ती चारा के लिये तथा तना ईंधन, झोपड़ी और टोकरी बनाने के काम लाया जाता है।

अरहर की दाल में भरपूर प्रोटीन पाया जाता है। इसमें कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, सोडियम, फॉस्फोरस, कॉपर, सिलेनियम, जिंक और मैंगनीज पाए जाते हैं. ये सभी विटामिन और मिनरल्स आपको सेहतमंद रखने में मदद करते हैं।

यहाँ भी पढ़े :- चौराई का दाल

तुअर दाल से होने वाले फायदे:- अरहर की दाल खाने से क्या फायदे होते है, आइये जानते है-

1. पाचन तंत्र होता है मजबूत :- अरहर की दाल का सेवन पेट के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि अरहर की दाल में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है। यह पाचन क्रिया को बेहतर बनाये रखने का कार्य करता है साथ ही पाचन से जुडी समस्याओं को भी दूर करने में मदद करता है, इसलिए अगर आप रोजाना एक कटोरी अरहर की दाल का सेवन करते हैं, तो इससे पाचन तंत्र (Digestion) मजबूत होता है।

2. वजन कम करने में मददगार:- अरहर की दाल का सेवन वजन (Weight) कम करने में काफी मददगार साबित होता है, क्योंकि अरहर की दाल में भरपूर मात्रा में प्रोटीन मौजूद होता है। और कैलोरी की मात्रा काम होती है और इसमें वासा और कोलेस्ट्रॉल भी काम पाया जाता है जो लम्बे समय तक ऊर्जा प्रदान करता है ।इसलिए अगर आप इसका सेवन करते हैं, तो इससे लंबे समय तक आपका पेट भरा हुआ लगता है। जिससे बार-बार भूख नहीं लगती है और इस प्रकार अरहर वजन कम करने में सहायक होता है।

3. ब्लड प्रेशर सामान्य रखता है :-अरहर की दाल का सेवन हाई ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) वाले मरीजों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि अरहर की दाल में पोटैशियम की वासोड़ीलेटर के रूप में  कार्य करता है,  जो रक्त वाहिकाओं में होने वाले अवरोध को दूर करने में मद्दद करता है और रक्त परिसंचरण को स्वस्थ रखता है।  इसलिए अगर आप इसका सेवन करते हैं, तो इससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।

यहाँ भी पढ़े :- साबुत मूंग की दाल

4. शुगर लेवल कंट्रोल करने के लिए :- अरहर की दाल डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों के लिए लाभदायक साबित होता है। शरीर में ऑक्सिडेविन तनाव के बढ़ते एस्टर के कारण डायबिटीज का खतरा  बन सकता है एक शोध के अनुसार ऑक्सिडेविन तनाव को काम करने के लिए एंटीऑक्सीडेंट गुंडो से भरपूर आहार खाना चाहिए अरहर दाल में भरपूर  मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते है जो शुगर लेवल कंट्रोल करके डायबिटीज के खतरे से दूर रखते है

5. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है :- अरहर की दाल का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक (Immunity) क्षमता मजबूत होती है। इसलिए जो लोग अक्सर बीमार पड़ते हैं, अरहर की दाल में उपस्थित इम्यूनोमोड्यूलेट्री गुड़ सरीर की प्रतिरोधकता को मजबूत बनाये रखने के साथ साथ रोग से लड़ने की छमता को भी बढ़ता है उनको रोजाना एक कटोरी अरहर की दाल का सेवन करना चाहिए।

6. खून की कमी को दूर करने के  लिए :- शरीर में खून की कमी को दूर करने के लिए अरहर का सेवन फायदेमंद होता है, क्योंकि अरहर की दाल में फोलेट शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ने में सहायक होती है। इसलिए अगर कोई रोजाना नियमित रूप से अरहर की दाल का सेवन करता है, तो इससे शरीर में खून की कमी नहीं  होती है और  एनीमिया (Anemia) की शिकायत दूर होती है।

7. ह्रदय स्वस्थ रखने के लिए :- ह्रदय की समस्याओं के लिए अरहर की दाल का सेवन फायदेमंद है क्योकि दाल में फाइबर ,पोटेशियम और बहुत ही कम कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है जो की ह्रदय के लिए फायदेमंद है पोटेशियम शरीर में रक्त के दवाव को कम करने के साथ दिल के तनाव को दूर करने में सहायक होता है।

8. कैंसर से बचाव :- कैंसर जैसी बीमारी से बचने के लिए दाल का सेवन फायदेमंद है दाल में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते है जो तनाव से होने वाले कैंसर के जोखिम को कम करने में सहायक है अरहर की जड़ में एंटी कैंसर गुड़ पाए जाते है जो शरीर में कैसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है।

अरहर की दाल खाने के नुकसान :- वैसे तो अरहर की दाल के सेवन से कई फायदे है लेकिन कुछ नुकसान भी है आइये जानते है

1. अगर किसी को किडनी (Kidney) संबंधी कोई बीमारी हो, तो उसे अरहर की दाल का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि अरहर की दाल में पोटैशियम की प्रचुर मात्रा पाई जाती है।

यहाँ भी पढ़े :-हॉर्स ग्राम करी

2. अगर किसी के शरीर में यूरिक एसिड (Uric Acid) की मात्रा बढ़ गई हो, तो उसे दाल का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि दालों में प्रोटीन की भरपूर मात्रा पाई जाती है और यूरिक एसिड बढ़ने पर प्रोटीन वाले चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।

3. अरहर की दाल से कई लोगों को एलर्जी (Allergy) होती है। इसलिए अगर अरहर की दाल का सेवन करने से स्किन संबंधी कोई परेशानी हो, तो इसका सेवन करना बंद कर देना चाहिए।

यह लेख  केवल एक सामान्य जानकारी प्रदान करता है अधिक जानकारी के लिए किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें इस लेख को पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद् . लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों और फॅमिली के साथ शेयर कीजिये .

Leave a Reply

Your email address will not be published.